Friday, July 19, 2024
Google search engine

Google search engine
Homeकोरबाअपराधियों को संरक्षण देना बंद करें ननकीराम, दगाबाजी के लिए रामपुर की...

अपराधियों को संरक्षण देना बंद करें ननकीराम, दगाबाजी के लिए रामपुर की जनता से माफी भी मांगें : श्यामलाल 0 पहले अपने गिरेबां में झांकें, एक रुपए भी लेने का आरोप साबित करके दिखाएं प्रदेशभर के कांग्रेसी : ननकीराम


0 डीएमएफ से विकास कार्यों और पुलिस कार्यवाही पर हुए हैं आमने-सामने
0 रामपुर में तेज हुई ननकीराम और श्यामलाल में जुबानी जंग
कोरबा, (खटपट न्यूज)। रामपुर विधानसभा के वर्तमान भाजपा विधायक और पूर्व कांग्रेस विधायक में जुबानी जंग तेज हो गई है। रजगामार चौकी पुलिस द्वारा शराब के मामले में की गई कार्यवाही और डीएमएफ से विकास कार्यों के लिए पाली क्षेत्र हेतु अनुशंसा पर राजनीति के दो वरिष्ठ नेताओं में यह जंग छिड़ी है जिससे रामपुर का सियासी पारा चढ़ा हुआ है।
रामपुर विधायक ननकीराम कंवर ने रजगामार चौकी पुलिस द्वारा विधानसभा क्षेत्र के ग्राम बुंदेली में जगराम कश्यप के विरुद्ध अवैध शराब के मामले में की गई कार्रवाई को गलत बताकर जांच की मांग की है। जगराम को झूठा मामला बनाकर हिरासत में प्रताड़ित करने और कोटवार से झूठा पंचनामा बनवाने का प्रयास करने का गंभीर आरोप ननकीराम कंवर ने लगाकर इसकी जांच करने पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखा है। इससे पहले ननकीराम कंवर द्वारा जिला खनिज न्यास मद से 2020-21 अंतर्गत विभिन्न 15 निर्माण कार्यों को पाली-तानाखार विधानसभा के विकासखंड पाली के विभिन्न पंचायतों में कराने की अनुशंसा कलेक्टर एवं पाली जनपद सीईओ से की गई है।
इन दोनों मामले में कांग्रेस के पूर्व विधायक श्याम लाल कंवर ने सवाल उठाए हैं। श्यामलाल कंवर ने अवैध शराब निर्माता और विक्रेता भाजपा कार्यकर्ता जगराम कश्यप के विरुद्ध की गई कार्रवाई को उचित ठहराया है और ननकीराम पर अपने करीबी को बचाने पुलिस पर बेवजह कार्रवाई करने का झूठा आरोप लगाकर अपराधी को संरक्षण प्रदान करने का असफल प्रयास बताया है। अगस्त 2013 में भी जगराम कश्यप द्वारा एक आबकारी कर्मचारी से मारपीट की गई थी। ननकीराम द्वारा संरक्षण दिए जाने से इसके हौसले बुलंद हैं और पुन: कोरकोमा के भाजपा कार्यकर्ता पंच पतिराम सारथी के द्वारा आबकारी विभाग की महिला कर्मी के साथ झूमा-झटकी कर छेड़छाड़ किया गया। श्यामलाल कंवर ने ननकीराम को अपराधियों को संरक्षण देने का काम बंद कर क्षेत्र में स्वस्थ व भयमुक्त वातावरण निर्मित करने के लिए कार्य करने की सलाह दी है। श्यामलाल ने रजगामार चौकी स्टॉफ की प्रशंसा कर पुलिस अधीक्षक से सम्मानित करने की मांग की है। इसी प्रकार रामपुर विधानसभा क्षेत्र के विकास से दगाबाजी का आरोप ननकीराम पर लगाया है। वर्ष 2019-20 व 2020-21 में खनिज न्यास मद के लगभग 2.83 करोड़ की राशि पाली भेजने और इस मेहरबानी की वजह स्पष्ट करने की मांग ननकीराम से श्यामलाल कंवर ने करते हुए इस धोखे के लिए रामपुर की जनता से माफी मांगने की बात तक श्यामलाल ने कह दी है।
0 ननकीराम ने प्रदेशभर के कांग्रेसियों को दिया खुला चैलेंज
दूसरी ओर पूर्व गृहमंत्री व रामपुर विधायक ननकीराम कंवर ने डीएमएफ के कार्यों की स्वीकृति पर आरोप लगाने संबंधी ब्लॉक कांग्रेस कमेटी ग्रामीण अध्यक्ष अजीत दास महंत के बयान को निराधार बताते हुए कहा है कि पहले अपने गिरेबां में झांक कर देखना चाहिए कि वो कितना सही कार्य कर रहे हैं। ननकीराम ने अजीत दास सहित पूरे प्रदेश के कांग्रेस नेताओं को ओपन चैलेंज किया है कि वो किसी से एक रुपए भी लेने का आरोप साबित कर दें तो उनको स्वयं धन्यवाद ज्ञापित करने जाएंगे। श्री कंवर ने कहा है कि 1977 से आज तक कई विभागों का मंत्री रहते किसी से एक रुपए नहीं लिया तो आज क्या लूंगा, कांग्रेसी नेता झूठा आरोप लगाकर वाहवाही लूटने का प्रयास कर रहे हैं। पाली विकासखंड में डीएमएफ से कार्यों की स्वीकृति पर कहा कि पाली क्षेत्र में भाजपा का विधायक नहीं होने की वजह से क्षेत्र के ग्रामीणों के लगाव की वजह से उनकी मांग अनुरूप भी कार्यों की स्वीकृति देने मेरे द्वारा अनुशंसा कर कोई गलत कार्य नहीं किया गया, लेकिन कुछ मंद बुद्धि रखने वाले अजीत दास जैसे कांग्रेस नेताओं के द्वारा बिना साक्ष्य ईमानदार नेताओं पर झूठा आरोप लगाया जाता है तो जनता भी उसे समझती है। श्री कंवर की ओर से विधायक प्रतिनिधि अनिल चौरसिया ने स्पष्ट किया है कि पाली क्षेत्र में अनुशंसित कार्यों को 1 जुलाई 2020 को संशाधन करने के लिए कलेक्टर, सहसचिव डीएमएफ को पत्र लिखकर रामपुर विधानसभा क्षेत्र के 11 गांवों में विकास कार्यों के लिए अनुशंसा की जा चुकी है, लेकिन कांग्रेस के कुछ अर्धज्ञान रखने वाले अजीत दास को सही जानकारी लेकर बयानबाजी करनी चाहिए। ननकीराम कंवर ने पूछा है कि कांग्रेस के बड़े नेता जो डीएमएफ के सदस्य हैं, वो रामपुर विधानसभा क्षेत्र के विकास के लिए उपेक्षा को सामने क्यों नहीं रखते।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments