Friday, July 19, 2024
Google search engine

Google search engine
HomeUncategorizedरिश्वतखोर रूर्बन मिशन समन्वयक, बीईओ और पटवारी को एसीबी ने रंगे हाथ...

रिश्वतखोर रूर्बन मिशन समन्वयक, बीईओ और पटवारी को एसीबी ने रंगे हाथ पकड़ा

रायपुर(खटपट न्यूज़)। उप महानिरीक्षक आरिफ शेख के पदभार ग्रहण करते ही एंटी करप्शन ब्यूरो ने मंगलवार को तीन अलग-अलग जगहों पर बड़ी कार्रवाई की है. टीम ने पटवारी सहित दो अधिकारियों को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है. इसके साथ ही तीनों आरोपी से रिश्वत की रकम बरामद की हई है. यह कार्रवाई एंटी करप्शन ब्यूरो रायपुर, अंबिकापुर एवं बिलासपुर के टीम द्वारा की गई.

गौरतलब है कि बिलासपुर जिले के ग्राम भदौरा के सरपंच प्रतिनिधि विजय कुमार राजगीर ने एसीबी बिलासपुर में लिखित शिकायत की थी. उन्होंने कहा था कि केन्द्र सरकार की रूर्बन मिशन योजना के तहत ग्राम पंचायत भदौरा के लिए स्टाम्प डेम, स्कूल पानी टंकी में शेड निर्माण एवं गांव में तीन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम के लिए स्वीकृत लगभग 14,00,000/- में से प्रथम किस्त रिलीज करने के एवज में नवीन कुमार देवांगन, समन्वयक रूर्बन मिशन जिला पंचायत बिलासपुर के द्वारा 5 प्रतिशत की राशि 35,000/- रिश्वत की मांग की गई. लेकिन वह रिश्वत नहीं देना चाहता था, उसे रंगे हाथों पकड़वाना चाहता था. इस शिकायत पर एसीबी बिलासपुर ने आज दबिश दी और नवीन कुमार देवांगन को विजय से 35 हजार रूपये रिश्वत लेते रंगे हाथों पकडा गया.

एसीबी ने बताया कि सूरजपुर जिला के प्रधान पाठक ओमप्रकाश योगी ने एसीबी कार्यालय अम्बिकापुर में शिकायत की थी कि लॉकडाउन अवधि का वेतन निकालने के एवज में बीईओ सूरजपुर कपूरचंद साहू के द्वारा आधे वेतन अर्थात 30,000 रुपए की मांग की गई, लेकिन प्रधान पाठक बीईओ सूरजपुर कपूरचंद साहू को 30,000 रुपये नहीं देना चाहता था बल्कि उसे 30,000 रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़वाना चाहता था. इस शिकायत के बाद ओमप्रकाश कपूरचंद साहू से मिला एवं मांगी गई रकम 30000 रुपए में से कुछ राशि कम करने निवेदन करने पर कपूरचंद साहू के द्वारा 30000 रुपये में से 5 कम कर लेना कहकर 25,000 रुपये दे देना कहा गया तथा 25,000 लेने कि सहमति दी गई. एसीबी अंबिकापुर के द्वारा आरोपी कपूरचंद साहू, विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी, जिला सूरजपुर को अंबिका पेटोल पम्प परिसर एसबीआई एटीएम के सामने ओमप्रकाश योगी से 25,000 रुपये रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया।

नरेन्द्र चतुर्वेदी पिता स्व० भागवत चतुर्वेदी उम्र- 28 साल, ग्राम गोपालपुर थाना नवागढ़ जिला बेमेतरा के द्वारा पुलिस अधीक्षक एसीबी रायपुर के समक्ष शिकायत प्रस्तुत किया था कि पिताजी के मौत होने के बाद पिताजी के नाम से धारित कृषि भूमि का फौती उठाकर अपने, अपनी मां तथा भाई के नाम पर दर्ज कराने के एवज में पटवारी लोचन साहू, प0ह0न0 15 अंधियार खोर नवागढ के द्वारा 7500/- रिश्वत की मांग की. रिश्वत की रकम अधिक होने के कारण पटवारी द्वारा 2800 रूपये लेने में सहमति हुई. लेकिन नरेंद्र पटवारी को रिश्वत की रकम नहीं देना चाहता था. एसीबी रायपर के द्वारा शिकायत का सत्यापन कर टीम के द्वारा पटवारी लोचन साहू को फौती उठाने के एवज में पटवारी कार्यालय अंधियारखोर नवागढ में 2800 रुपए लेते रंगे हाथों पकड़ा गया.

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments