Friday, July 19, 2024
Google search engine

Google search engine
Homeबड़ी खबरप्रदेश में मनरेगा मजदूरी का बना रिकार्ड.

प्रदेश में मनरेगा मजदूरी का बना रिकार्ड.

रायपुर। कोरोना कॉल में छत्तीसगढ़ में मजदूरी देने का नया रिकार्ड बना है. इस दौरान 26 लाख 10 हजार 155 मजदूरों को रोजगार दिया गया है. प्रदेश के 28 जिलों में राजनांदगांव पहले नंबर पर है, जहां 2,24,422 मजदूरों को रोजगार दिया गया, और सबसे कम नारायणपुर में 13089 मजदूरों को काम दिया गया.

पंचायत एवं ग्रामीण विकास संचालक एस. प्रकाश ने बताया कि 2020-21 में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना में जरूरतमंदों को भरपूर काम मिला. गांव के विकास के साथ लोगों को रोजगार मिलता रहे इस उद्देश्य से कोरोना काल में भी मनरेगा का काम बदस्तूर जारी रहा.  उन्होंने बताया कि मनरेगा के तहत काम जारी रहेगा और कोरोना वायरस सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए रोजगार दिया जाए. इसके पहले सन् 2016 में 16 लाख मजदूरों को रोजगार देने का रिकॉर्ड बना था.

संचालक ने बताया कि प्रदेश के सभी जिलों का बहुत अच्छा काम रहा, तब जाकर पिछला रिकॉर्ड टूटा और अब 26 लाख 10 हजार 155 मजदूरों को रोजगार दिया गया है. जितने लोगों को काम दिया गया है नियमानुसार भुगतान भी जारी है.

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments